Class 7 Hindi Vasant Chapter 17 Veer Kunwar Singh question answer

Veer Kunwar Singh class 7 hindi chapter 17 Question and answers Ncert Solutions with free pdf download वीर कुंवर सिंह

Class 7 Hindi Chapter 17 Veer Kunwar Singh question answer

PGRMS Education

पाठ 17 वसंत:- वीर कुंवर सिंह

प्रश्न/उत्तर:-

प्रश्न -१ : वीर कुँवर सिंह के व्यक्तित्व की कौन-कौन सी विशेषताओं ने  आपको प्रभावित किया ?

उत्तर : वीर कुँवर सिंह भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के वयोवृद्ध सिपाही थे। उनका व्यक्तित्व अदम्य साहस पूर्ण कार्यों से भरा हुआ था। एक बार उन्होंने अपना हाथ स्वयं काटकर गंगा में समर्पित कर दिया था। वे  बहुत ही उदार स्वभाव के व्यक्ति थे। वह निर्धन थे, इसके बावजूद भी उन्होंने कई तालाबों व स्कूलों तथा मार्गों का निर्माण कराया था। वे बहुत ही स्वाभिमानी व्यक्ति थे। उन्होंने अपने जीवन में अंतिम समय तक कभी भी अंग्रेजों के सामने घुटने नहीं टेके। वे सांप्रदायिक सौहार्द  पसंद व्यक्ति थे। उनकी सेना में इब्राहिम खान और किफ़ायत हुसैन महत्वपूर्ण पदों पर थे। उनके यहां हिंदू और मुसलमानों के  सभी त्यौहार एक साथ मनाई जाते थे।

 प्रश्न – २ : कुँवर सिंह को बचपन में किन कामों में मजा आता था ? क्या उन्हें उन कामों से स्वतंत्रता सेनानी बनने में कुछ मदद मिली ?

उत्तर : वीर कुँवर सिंह को बचपन में पढ़ाई के बजाय घुड़सवारी करना, तलवारबाजी और कुश्ती लड़ने में मजा आता था। इन्हीं कार्यों के कारण उनके अंदर अदम्य साहस, वीरता का विकास हुआ, जिससे  आगे चलकर अंग्रेजों से लोहा लेने में समर्थ रहे।

प्रश्न – ३ : सांप्रदायिक सद्भाव में कुँवर सिंह की गहरी आस्था थी – पाठ के आधार पर कथन की पुष्टि कीजिए।

उत्तर : कुँवर सिंह की संप्रदायिक सद्भाव में गहरी आस्था थी, उन्होंने कभी धर्म संबंधी भेदभाव नहीं किया। इब्राहिम खां और किफ़ायत हुसैन उनकी सेना में उच्च पदों पर आसीन थे। उनके यहां हिंदू और मुसलमानों के त्यौहार मिलकर साथ-साथ मनाई जाते थे। इन सभी कार्यो से पता चलता है, कि वे संप्रदाय सद्भाव प्रिय व्यक्ति थे।

 प्रश्न – ४ : पाठ के किन किन प्रसंगों से आपको पता चलता है कि कुँवर सिंह साहसी, उदार एवं स्वाभिमानी व्यक्ति थे।

उत्तर : वीर कुँवर सिंह भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के वयोवृद्ध सिपाही थे। उनका व्यक्तित्व अदम्य साहस पूर्ण कार्यों से भरा हुआ था।  वे  बहुत ही उदार स्वभाव के व्यक्ति थे। वे निर्धन थे, इसके बावजूद भी उन्होंने कई तालाबों व स्कूलों तथा मार्गों का निर्माण कराया। वे बहुत ही स्वाभिमानी व्यक्ति थे। उन्होंने अपने जीवन में अंतिम समय तक कभी भी अंग्रेजों के सामने घुटने नहीं टेके। वे सांप्रदायिक सौहार्द  पसंद व्यक्ति थे। उनकी सेना में इब्राहिम खां और किफ़ायत हुसैन महत्वपूर्ण पदों पर थे। उनके यहां हिंदू और मुसलमानों के सभी त्योहार एक साथ मनाई जाते थे। इन सभी प्रसंगों से पता चलता है कि कुँवर सिंह साहसी, उदार एवं स्वाभिमानी व्यक्ति थे।

 प्रश्न – ५ : आमतौर पर मेले मनोरंजन खरीद-फरोख्त एवं मेलजोल के लिए होते हैं। वीर कुँवर सिंह ने मेलों का उपयोग किस रूप में किया ?

उत्तर : आमतौर पर मेले मनोरंजन, खरीद-फरोख्त एवं मेलजोल के लिए होते हैं, लेकिन कुँवर सिंह ने मेलों का उपयोग अंग्रेजी शासन के विरुद्ध क्रांतिकारी गतिविधियों के लिए किया, उनकी गुप्त  बैठकों का आयोजन भी इन्हीं मेलों में किया जाता था।

अनुमान एवं कल्पना

प्रश्न – १ : वीर कुँवर सिंह का पढ़ने के साथ-साथ कुश्ती और घुड़सवारी में अधिक मन लगता था। आपको पढ़ने के अलावा और किन किन गतिविधियों या कामों में खूब मजा आता है ? लिखिए।

उत्तर : वीर कुँवर सिंह का पढ़ने के साथ-साथ कुश्ती और घुड़सवारी में अधिक मन लगता था। लेकिन हमारा पढ़ने के साथ-साथ वीडियोग्राफी करना, वीडियो गेम खेलना, यूट्यूब पर मनोरंजन पूर्ण प्रोग्राम देखने आदि में ज्यादा मन लगता है।

 प्रश्न – २ : सन 1857 में अगर आप 12 वर्ष के होते तो क्या करते ? कल्पना करके लिखिए।

उत्तर : यदि सन 1857 में हम लगभग 12 वर्ष के होते तो अपनी पढ़ाई के साथ-साथ लोगों को और अपने साथियों को अंग्रेजों के विरुद्ध आंदोलनों में सहयोग करने की कोशिश करते, गांवों में घर-घर जाकर के उन्हें अंग्रेजों के अत्याचार वह क्रांतिकारी लोगों के बलिदान आदि के विषय में सभी लोगों को समझाने का प्रयास करते।

Free Pdf Class 7 Hindi Chapter 17 Veer Kunwar Singh :-

To see our Youtube Channel Pgrms Click Here

Class-7-Hindi-Chapter-17-Veer-kuwar-singh-Question-Answer

Class 7 Hindi Vasant All Chapters:-

Related searches

वीर कुंवर सिंह के प्रश्न उत्तर

class 7 hindi veer kunwar singh pdf

पाठ 17 वीर कुंवर सिंह

class 7 hindi chapter 17 explanation

ncert class 7 hindi chapter 17 question answer

वीर कुंवर सिंह पाठ का सारांश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *